एनसीईआरटी की किताबों में 'INDIA' हुआ 'भारत', नाम बदलने की सिफारिश हुई मंजूर

Sports News Without Access, Favor, Or Discretion!

  1. Home
  2. Others

एनसीईआरटी की किताबों में 'INDIA' हुआ 'भारत', नाम बदलने की सिफारिश हुई मंजूर

India हुआ भारत


Yuva Haryana: राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान संस्थान और प्रशिक्षण परिषद (NCERT) ने अब अपनी किताबों में 'INDIA' शब्द की जगह 'भारत' का इस्तेमाल करने का निर्णय लिया है। एनसीईआरटी ने इस परिवर्तन को मंजूर किया है।
पैनल के सदस्यों में से एक सीआई इसाक ने कहा, "यह प्रस्ताव कुछ महीने पहले ही रखा गया था और अब इसे स्वीकार कर लिया गया है।" यह वक्त वह है जब सियासी हलकों में 'INDIA' नाम को 'भारत' बदलने की बहस जोरों से चल रही है। 
संविधान के अनुच्छेद 1(1) में व्यक्त हुआ है कि "हमारे देश का नाम 'इंडिया अर्थात भारत जोकि राज्यों का एक संघ होगा'।" 
जी20 के बाद चर्चा में आया ‘भारत’

परिभाषित किया जाता है कि संविधान के अनुच्छेद 1(1) में हमारे देश का नाम “इंडिया, अर्थात भारत राज्यों का एक संघ है। सितंबर में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत मंडपम् में जी20 की बैठक के दौरान भी नेमप्लेट पर ‘भारत’ लिखी मेज से अपना संबोधन किया था। सोशल मीडिया पर व्यापक रूप से साझा किए गए वीडियो और तस्वीरों में पीएम मोदी की ओर से शिखर सम्मेलन में अपना उद्घाटन भाषण देते समय ‘भारत’ प्रदर्शित करने वाला एक प्लेकार्ड दिखाया गया।

पहले भी हुए थे एनसीईआरटी की किताबों में बदलाव

इस बीच एनसीईआरटी समिति ने भी पाठ्यपुस्तकों में ‘हिंदू जीत’ को उजागर करने की सिफारिश की है। इसने पाठ्यपुस्तकों में ‘प्राचीन इतिहास’ के स्थान पर ‘शास्त्रीय इतिहास’ को शामिल करने की भी सिफारिश की है।

इस्साक ने कहा कि इतिहास को अब प्राचीन, मध्यकालीन और आधुनिक में विभाजित नहीं किया जाएगा जैसा कि अंग्रेजों ने किया था। बताया गया है कि अंग्रेजों ने भारत को वैज्ञानिक प्रगति और ज्ञान से अनभिज्ञ अंधकार में दिखाया था। समिति ने सभी विषयों के पाठ्यक्रम में भारतीय ज्ञान प्रणाली (आईकेएस) को शामिल करने की भी सिफारिश की है।

AROUND THE WEB

Bollywood

Featured