"भगवान शिव के आशीर्वाद से समृद्धि और शक्ति का संबल: सोमवार का व्रत", जानिए इस दिन क्या खाये ?

Sports News Without Access, Favor, Or Discretion!

  1. Home
  2. Lifestyle

"भगवान शिव के आशीर्वाद से समृद्धि और शक्ति का संबल: सोमवार का व्रत", जानिए इस दिन क्या खाये ?

हरयाणा खबर


Haryana Khabar : सोमवार का व्रत हिंदू धर्म में एक प्रसिद्ध व्रत है जो भगवान शिव को समर्पित होता है। इस व्रत को सोमवार के दिन अनुष्ठान किया जाता है, जो हिंदू कैलेंडर के मासिक वार का पहला दिन होता है। सोमवार को शिवरात्रि भी कहते हैं, और यह विशेष रूप से श्रद्धा भक्ति के लोगों द्वारा माना जाता है।

सोमवार के व्रत को लोग भगवान शिव की कृपा प्राप्ति, सुख, समृद्धि, और अच्छे स्वास्थ्य के लिए करते हैं। इस व्रत के दौरान, व्रती व्यक्ति उपवास (निराहारी रहना) करते हैं और शिवलिंग का पूजन करते हैं। सोमवार के दिन भगवान शिव के नाम के जाप, आरती, भजन, और मन्त्र-जाप का विशेष महत्व होता है।

सोमवार के व्रत का अनुष्ठान करने से मनुष्य को शुभ फल की प्राप्ति होती है और उसकी आर्थिक स्थिति में सुधार होता है। इस व्रत को नियमित भक्ति भाव से करने से साधक को मानसिक शांति और आत्मिक उन्नति की प्राप्ति होती है।

1. फल:

सोमवार के व्रत में फलों का सेवन करना शुभ माना जाता है। केले, सेब, संतरा, अनार, अमरूद और खरबूजा जैसे फल व्रत में खाये जा सकते हैं।

2. दूध और दही:

सोमवार के व्रत में दूध और दही के उपयोग से शरीर को पुष्टि मिलती है और व्रत को संजोने में मदद करते हैं।

3. शाकाहारी भोजन:

व्रत में शाकाहारी भोजन जैसे सब्जियां, दाल, चावल, रोटी, पानी पूरी, पकौड़ी, साबुदाना, कचौड़ी आदि का सेवन किया जा सकता है।

4. खीर:

सोमवार के व्रत में खीर बनाना और खाना भी प्रसिद्ध है।

5. द्राक्षा और फल का जूस:

 

द्राक्षा के जूस और फलों के रस का सेवन व्रती लोगों के लिए उपयुक्त होता है।

6. चावल की खिचड़ी:

 

चावल की खिचड़ी भी सोमवार के व्रत में खाई जाती है और इसे ताजे धनिया और गरमा गरम घी के साथ परोसा जा सकता है।

7. चांदी के चटकी:

 

एक प्रकार के दही वड़े जिन्हें चांदी के चटकी भी कहते हैं, व्रत के दौरान भी खाए जा सकते हैं।

ध्यान दें कि सोमवार के व्रत में अन्य अनाज, प्याज, लहसुन, गाजर और आम जैसे ताम्बूली चीजें नहीं खाई जाती हैं। व्रती अपने आहार में ध्यान रखें और सात्विक आहार जैसे फल, सब्जियां और दूध जैसी चीजों का सेवन करें ताकि व्रत का उद्दीपन शुभ रहे। इसे भारतीय धार्मिक और सांस्कृतिक परंपरा के अनुसार अनुष्ठान करें और शुभकामनाएं प्राप्त करें।

AROUND THE WEB

Bollywood

Featured