क्या आप भी छोटी - छोटी बीमारियों से है पेरशान , तो आज से ही जरूर करें ये 5 काम

Sports News Without Access, Favor, Or Discretion!

  1. Home
  2. Lifestyle

क्या आप भी छोटी - छोटी बीमारियों से है पेरशान , तो आज से ही जरूर करें ये 5 काम

क्या आप भी छोटी - छोटी  बीमारियों से है पेरशान ,  तो आज से ही  जरूर करें  ये 5 काम


क्या आप भी छोटी - छोटी  बीमारियों से है पेरशान ,  तो आज से ही  जरूर करें  ये 5 काम

LIfestyle News :  सितंबर का महीना खत्म होने वाला है और धीरे-धीरे मौसम में बदलाव आ रहा है. अगले कुछ सप्ताह में मौसम तेजी से बदलेगा और पूरे उत्तर भारत में हल्की सर्दी का आगाज हो जाएगा. मौसम बदलने से लोगों को गर्मी से राहत मिलेगी, लेकिन इससे सेहत के लिए कई तरह के खतरे पैदा हो जाएंगे.

जब-जब मौसम बदलता है, तब उसका असर हमारे इम्यून सिस्टम पर होता है और तापमान में आए बदलाव सभी लोगों की इम्यूनिटी कुछ समय के लिए वीक हो जाती है. ऐसे में जिन लोगों की इम्यूनिटी पहले से कमजोर है, उन्हें सबसे ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ता है. आज डॉक्टर से जानेंगे कि लोगों को आगामी कुछ दिनों के लिए कौन सी सावधानियां बरतनी चाहिए, ताकि वे बीमारियों की चपेट में न आएं और हेल्दी रहें.

नई दिल्ली के सर गंगाराम हॉस्पिटल के प्रिवेंटिव हेल्थ एंड वेलनेस डिपार्टमेंट की डायरेक्टर डॉ. सोनिया रावत के अनुसार उत्तर भारत में अगले कुछ सप्ताह में मौसम तेजी से बदलेगा. इस दौरान टेंपरेचर और ह्यूमिटी में बदलाव होगा, जिससे हमारा इम्यून सिस्टम वीक हो जाएगा. इस मौसम में वायरस, बैक्टीरिया का कहर बढ़ जाएगा और बड़ी संख्या में लोग सर्दी-जुकाम, खांसी, गले में खराश, बुखार, ड्राई स्किन की चपेट में आ सकते हैं. ब्रोंकाइटिस, अस्थमा व अन्य रेस्पिरेटरी डिजीज से जूझ रहे लोगों को भी मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है.

तापमान में बदलाव आने से लोगों के शरीर का एनर्जी लेवल भी कम हो जाता है, जिससे वे सुस्ती महसूस करते हैं. इसे वेदर चेंज सिकनेस कहा जाता है. यह मौसम उन लोगों को सबसे ज्यादा प्रभावित करता है, जिसकी इम्यूनिटी कमजोर होती है. ऐसे लोगों को बदलते मौसम में विशेष सावधानी बरतनी चाहिए, ताकि मौसमी फ्लू के कहर से बचा जा सके.

डॉक्टर की मानें तो बदलते मौसम में कमजोर इम्यूनिटी और बीमारियों से जूझ रहे लोगों को फ्लू वैक्सीन जरूर लगवा लेनी चाहिए. साल में एक बार फ्लू वैक्सीन लगवाई जा सकती है और यह मौसमी बीमारियों से बचाने में काफी कारगर हो सकती है. सांस संबंधी बीमारियों से मरीज फ्लू वैक्सीन जरूर लें.

 बदलते मौसम में बीमारियों से बचने के लिए लोगों को ठंडा या बर्फ का पानी नहीं पीना चाहिए. इसके बजाय नॉर्मल या हल्का गुनगुना पानी पी सकते हैं. इससे उनके गले में खराश नहीं होंगी और शरीर को कई फायदे मिलेंगे. गले में दिक्कत होने पर आप गुनगुने पानी में नमक डालकर गरारे कर सकते हैं.

वेदर चेंज सिकनेस से बचने के लिए समय पर सोना-जागना और फिजिकली एक्टिव रहना बेहद जरूरी है. अगर आप लाइफस्टाइल में सकारात्मक बदलाव कर लेंगे, तो आपका इम्यून सिस्टम बेहतर रहेगा और मौसमी फ्लू जैसे- सर्दी-जुकाम, खांसी, बुखार और गले में खराश जैसी समस्या नहीं होगी.

 इस मौसम में आप बीमारियों से बचने के लिए फल और सब्जियां खूब खाएं. इनमें मौजूद पोषक तत्व आपको हेल्दी रखने में मदद करेंगे. इसके अलावा बदलते मौसम में पर्याप्त मात्रा में पानी पीना भी बेहद जरूरी है. इससे आपके शरीर में पानी की कमी नहीं होगी और एनर्जी लेवल बरकरार रहेगा.

 जिन लोगों की इम्यूनिटी वीक है, वे बदलते मौसम में डॉक्टर की सलाह लेकर विटामिन C और विटामिन D सप्लीमेंट्स भी ले सकते हैं. इससे उनके शरीर में पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी पहुंचेगा, जिससे इम्यून सिस्टम को मजबूती मिलेगी. विटामिन डी से भी कई बड़े फायदे मिल सकते हैं.

AROUND THE WEB

Bollywood

Featured