हरियाणा के इस शहर में बन रही ऐतिहासिक धरोहर , 'युद्ध स्मारक' के लिए 1857 की क्रांति से जुड़ी वस्तुएं दे सकते हैं लोग

Sports News Without Access, Favor, Or Discretion!

  1. Home
  2. Haryana

हरियाणा के इस शहर में बन रही ऐतिहासिक धरोहर , 'युद्ध स्मारक' के लिए 1857 की क्रांति से जुड़ी वस्तुएं दे सकते हैं लोग

pic


Haryana khabar :  प्रथम स्वतंत्रता संग्राम 1857 के योद्धाओं और सेनानियों की याद में अंबाला कैंट में एक शहीद स्मारक का निर्माण किया जा रहा है। इस युद्ध में हजारों लोग ने देश के लिए अपनी जान न्यौछावर की थी। अब इन शहीदों को समर्पित करके अंबाला में करोड़ों की लागत से एक श्रद्धांजलि स्थल का निर्माण हो रहा है, जिससे आने वाले समय में यह एक आकर्षण का केंद्र बनेगा।

 

इस शहीद स्मारक का निर्माण अंबाला-दिल्ली नेशनल हाइवे पर किया जा रहा है। अंबाला में यह स्मारक अपने आप में एक विशेषता होगा। लगभग 300 करोड़ की लागत से इस शहीद स्मारक की निर्माण कार्य जारी है। इस स्मारक में पर्यटकों के लिए म्यूजियम गैलरी, ऑडियो-विजुअल हॉल, लॉबी, शहीदी वॉल, वीआईपी एट्रेंस, 2 हजार लोगों के लिए थिएटर, एक्सिबिशन हॉल, फूड कोर्ट, टॉयलेट ब्लॉक, रिहर्सल रूम, फिल्टरेशन रूम और अन्य सुविधाएं होंगी।

 

प

इसके साथ ही एक 150 फीट ऊंचा मेमोरियल टॉवर भी होगा, जिसमें आर्ट गैलरी, वॉटर बॉडी, हाई स्पीड लिफ्ट आदि शामिल होंगे। वाहन पार्किंग के लिए अंडरग्राउंड डबल बेसमेंट पार्किंग सुविधा भी होगी और वीवीआईपी के आने-जाने के लिए हेलीपैड भी बनाया जाएगा।

 

 

गृह मंत्री अनिल विज ने बताया कि यहां पर बहुत बड़ा राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्मारक बनाया जा रहा है। 1857 में आजादी की पहली लड़ाई लड़ी गई थी। हमारे इतिहास की किताबों में अनेकों नए-नए शासक आए लेकिन इन शहीदों को उन्होंने कभी भी याद नहीं किया। इसीलिए उनकी याद में 22 एकड़ जमीन में एक शहीदी स्मारक बनाया जा रहा है। इसकी लागत लगभग 300 करोड़ से अधिक है।

 

 

 

टेंडर भी पहले ही जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि इसे देखने के लिए सारी दुनिया आएगी, साथ ही एक हेलीपैड भी निर्मित किया जा रहा है। हम कोशिश करेंगे कि इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री द्वारा किया जाए। विज ने बताया कि यह स्मारक 9 से 10 महीनों में बनकर तैयार हो जाएगा।

AROUND THE WEB

Bollywood

Featured