हरियाणा सरकार ने बनाया धांसू प्लान, बाढ़ से बचेगी दिल्ली , जानिए क्या है है ताऊ का आइडिया

Sports News Without Access, Favor, Or Discretion!

  1. Home
  2. Haryana

हरियाणा सरकार ने बनाया धांसू प्लान, बाढ़ से बचेगी दिल्ली , जानिए क्या है है ताऊ का आइडिया

pic


 Haryana khabar : दिल्ली की राजधानी में यमुना नदी के जलस्तर में बढ़ोतरी के चलते नगरों में बाढ़ के खतरे का सामना किया जा रहा है। जुलाई महीने में, यमुना नदी का जलस्तर 208.65 मीटर तक पहुंच गया, जो खतरे के निशान से 3.32 मीटर ऊंचा है। यह उपलब्ध डेटा बताता है कि इससे पहले साल 1978 में यमुना का जलस्तर 207.49 मीटर दर्ज किया गया था। यमुना के बढ़े जलस्तर के परिणामस्वरूप, दिल्ली के कई क्षेत्र जलमग्न हो गए हैं, जिसके कारण लोगों को अपने घरों को छोड़कर राहत शिविरों में शरण लेनी पड़ रही है।

इस घातक परिस्थिति के चलते, यमुना नदी के जलस्तर को नियंत्रित करने के लिए हरियाणा सरकार ने हाल ही में हथिनीकुंड बैराज पर एक बांध निर्माण की योजना को मंजूरी दी है। इस योजना के अनुसार, हथिनीकुंड बैराज पर 6,134 करोड़ रुपये की लागत से एक बांध बनाया जाएगा। यह बांध हरियाणा के यमुनानगर जिले में स्थित होगा, और यह हथिनीकुंड बैराज से 4.5 किलोमीटर ऊपर की दिशा में स्थापित होगा। इसके आलावा, यह बांध हरियाणा के साथ-साथ उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड की सीमा से भी जुड़ा होगा। इस बांध की क्षमता 10.82 लाख क्यूसेक होगी, जो कि दिल्ली और हरियाणा में बाढ़ के खतरे को कम करने में मदद करेगी।

AAP पार्टी ने इस बड़े परियोजना को लेकर हरियाणा सरकार के प्रति आरोप लगाते हुए कहा कि यह सिर्फ यमुना नदी का पानी ही दिल्ली में डायवर्ट करने की साजिश थी, जिससे बाढ़ की स्थिति बिगड़ गई। हालांकि, हरियाणा सरकार अब इस मुद्दे का स्थायी समाधान निकालने पर विचार कर रही है, जिससे इस प्रकार की समस्याएँ भविष्य में बची जा सकें।"

AROUND THE WEB

Bollywood

Featured